Khana Khane Ki Dua aur Khana Khane Ke Baad Ki Dua | खाना खाने से पहले और बाद की दुआ

आज इस पोस्ट में आप लोगों को हम Khana Khane Ki Dua aur Khana Khane Ke Baad Ki Dua हिंदी में बताएंगे। खाना खाने से पहले के बहुत सारे आदाब हदीस शरीफ़ में मौजूद है जिस पर अमल करना हमारे लिए ज़रूरी है। क़ुरआन व हदीस की बातों पर अमल करने से हमें दुन्या और आख़िरत दोनों जगा कामयाबी हासिल होगी । इस्लाम में खाने से पहले और खाना खाने के बाद की दुआ और खाने के आदाब हमको बता दिये है।

दीने इस्लाम में सफ़ाई सुथराई का हुक्म दिया गया है इसीलिए खाने से पहले हाथ धोने का हुक्म है खाने से पहले दोनों हाथो को धोना चाहिए ताके हाथ साफ़ होजाए अगर हाथ में कुछ गन्दगी होगी तो उससे हमें नुकसान पहुंच सकता है। दुआ पढ़ कर खाए दाएं हाथ से खाएं ज़ियादा गरम न खाएं।

खाने से पहले के आदाब | Khane Ki Sunnaten

खाने से पहले अच्छी तरह हाथ धोलेना चाहिए, ताके हाथो में पहले से कोई मैल या गन्दगी हो वो निकल जाए।
(सुनन निसाई 256)

खाने का मक़सद जिस्म को ताक़त पहुंचना है ताके अल्लाह के आदेशों का पालन करने में कारगर हो सके
(सहीह बुख़ारी)

खाने में हलाल, पाकीज़ा और अच्छी चीज़ को चुनना चाहिए
(अल बक़रह 168)

टेक लगा कर खाना सही नहीं है
(बुख़ारी 5398)

खड़े होकर खाना खाने से अल्लाह के नबी सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने मना फ़रमाया है
(मुस्लिम 2024)

खाना खाने के लिये अहले इल्म और बुज़रुग मौजूद हो तो सम्मान के लिये खाना शुरू करने का इन्तिज़ार करना चाहिए
(अबू दावूद 3766)

खाना ठंडा करके खाने से बरकत होती है
(सुनन दारमी 2211)

Khana Khane Ki Dua aur Khana Khane Ke Baad Ki Dua

खाने से पहले की दुआ हिंदी में | Khane Ki Dua

बिसमिल्लाह

(अबू दावूद 3867, तिर्मिज़ी 1858)

तर्जुमा: अल्लाह के नाम के साथ

अगर शुरू में दुआ पढ़ना भूल जाए तो फिर ये कहे

बिस्मिल्लहि अव्वल-हु व आख़ि रहु

(अबू दावूद 3867, तिर्मिज़ी 1858)

तर्जुमा: अल्लाह के नाम के साथ उस के शुरू और उस के आखिर में

ये भी पढ़े: Pani Peene Ki Dua Aur Sunnat

Khana Khane Ki Dua in Roman English

Bismillah

Tarjuma: Allah Ke Naam Ke Saath

Agar Khana Khane se pehle dua padhna bhool jae to ye kahe

Bismillahi Awwala-Hu Wa Aakhirahu

Tarjuma: Allah Ke Naam Ke Saath Uske Shuru Aur Uske Aakhir Me

खाने के बाद की दुआ हिंदी में | Khane Ke Baad Ki Dua

अल्हम्दु लिल्ला हिल्लज़ी अत अ-मनी हाज़ा व र-ज़-क़नीहि मिन गैरी हौलिम मिन्नी वला क़ुव्वह

(तिर्मिज़ी 3458, इब्ने माजा 3285)

तर्जुमा:  तमाम तारीफ़ात अल्लाह के लिये हैं जिस ने मुझे ये खाना खिलाया और मुझे किसी ताक़त और क़ुव्वत के बगैर अता किया।

Khane Ke Baad Ki Dua in Roman English

Alhamdu Lillahillazee At-Amanee Haza Wa Razaqaneehi Min Gairee Haulim Minnee Wala Quwwah

Tarjuma: Sabhi Tareefaat Allah Ke LIye Hai Jisne Mujhe Ye Khana Khilaya Aur Mujhe Kisi Taqat Aur Quwwat Ke Bagair Ata Kiya.

Ise Bhi Padhe: Ayatul Kursi in Hindi

खाना खिलाने वाले के लिये दुआ

अल्लाहुम्म बारिक लहुम फ़ीमा रज़क तहुम वग्फ़िर लहुम वर हमहुम

(सहीह मुस्लिम 2042)

जो शख़्स कुछ खिलाए पिलाए उस के लिए दुआ

अल्लाहुम्म अत इम मन अत अ-मनी व असकि मन अस्क़ानी

(सहीह मुस्लिम 2055)

तर्जुमा: ए अल्लाह जिस ने मुझे खिलाया तू भी उसे खिला और जिस ने मुझे पिलाया तू भी उसे पिला

ये भी पढ़े: 55 Masnoon Dua List in Hindi

खाना खाने का तरीक़ा | Khana Khane Ki Sunnaten

खाना दाएं हाथ से खाएं
(तिर्मिज़ी 1857)

खाने के बर्तन को अपने पास करलेना चाहिये
(तिर्मिज़ी 1857)

खाना अपने सामने से खाएं
(मुस्लिम 2022)

खाना प्लैट के किनारों से खाना चाहिये और बीच में से नहीं खाना चाहिये
(अबू दावूद 3773)

खाना तीन उंगलियों से खाएं और आख़िर में उंगलियां चाट लेना चाहिये
(मुस्लिम 2034)

खाने के बाद हाथों को साफ़ करने से पहले चाट लेना चाहिए
(बुख़ारी 5456)

खाने के बर्तन को उंगलियों से साफ़ करना नबी सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम की पैरवी है
(मुस्लिम 2034)

खाना खा लेने के बाद अल्लाह तआला का शुक्र अदा करते हुए दुआ पढ़नी चाहिये
(अबू दावूद 4023)

Ise Bhi Padhe: Subah Uthne Ki Dua

Khane Ke Dauran Ki Sunnaten

खाना एक साथ खाने से बरकत होती है
(मुसनद अहमद 16078)

खाने वाली चीज़ें जैसे खजूर, अंगूर जामुन या ऐसी दूसरी चीज़ें एक बार में एक ही पीस उठाना चाहिये
(बुख़ारी 5446)

खाने को हाथ से तोड़ कर खाना चाहिये अगर कड़क होतो दांतों से तोड़ना भी सही है
(बुख़ारी)

खाने में दोष नहीं निकालना चाहिये दिल न माने तो चुप चाप खाना छोड़ देना बेहतर है
(बुख़ारी 3563)

अगर खाने का निवाला निचे गिर जाए तो उठा कर साफ़ कर के खा लेना चाहिये
(मुस्लिम 2034)

Surah in Hindi

Surah Fatiha in Hindi सूरह फातिहा
Surah Naas in Hindi सूरह नास
Surah Falaq in Hindi सूरह फ़लक़
Surah Yaseen in Hindi सूरह यासीन
Surah Yaseen in Roman English सूरह यासीन इंग्लिश में

Leave a Comment

error: Content is protected !!